वह रुका पल कोई घर है कहीं

वह रुका पल कोई घर है कहीं

Tuesday, April 25, 2017

दैनिक जागरण में समीक्षा

कविता संग्रह  "शेष अनेक" की  दैनिक जागरण में  स्मिता   की लिखी समीक्षा।























शेष अनेक (कविता संग्रह)

प्रकाशक -

कॉपर कॉइन पब्लिशिंग